मुफ़्ती “नासिर अल उमर” ने सीरिया के आतंकियों को उनकी बहनों से शादी करने का फ़तवा दिया है। अलख़बर चैनल के अनुसार इस मुफ़्ती ने वेसाल नामक चैनल पर “जेहाद निकाह” फ़तवे की निंदा करने वालों की कड़ी आलोचना की हैं।

उसने कहा कि कुछ लोग जिहादियों (आतंकियों) को अपनी बहनों से शादी करने की इजाज़त देने वाले फ़तवे की निंदा कर रहे हैं, लेकिन आश्चर्य की बात है यह कि कोई भी सीरिया की फ़ौज द्वारा किये जाने वाले नरसंहार पर नही बोल रहा है।

Loading...

उसने सीरिया में होने वाले अत्याचारों के लिए ईरान और सीरिया की सरकार को दोषी ठहराया और कहा कि यह दोनों देश यहां शिया हुकूमत लाना चाहते हैं और यह नही चाहतें हैं कि इस क्षेत्र में सुन्नियों का कोई रोल रह जाए।

जहान नामक साइट ने लिखाः “नासिर अल उमर” ने अपनी बातों में कहा कि सीरिया के मुजाहिद नामहरम मुजाहिद औरतों के ना होने की सूरत में अपने महरमों से शादी कर सकते हैं। उसने ऐलान किया कि अगर नामहरम तक पहुँचना आसान ना हो तो मुजाहित अपनी बहनों से भी शादी कर सकते हैं

ध्यान देने योग्य बात है कि यह मुफ़्ती अपने आप को सच्चा मुसलमान और इस्लाम का हामी दिखाते हैं और कहते हैं कि उनके अलावा सब “काफ़िर” हैं और वह दुनिया में इस्लाम के नाम पर और इस्लाम का झंडा ऊँचा करने के लिए जेहाद कर रहे हैं।

आपको बता दें की अबतक ऐसा था की मुस्लमान अपनी चचेरी और ममेरी बहनो से निकाह कर सकते थे, पर मुसलमान सगी बहनो से भी निकाह कर सकते है इस मुफ़्ती ने बता दिया

और भी पढें  जानिए क्या गलती की एक सीधी शादी लड़की ने की बन गयी सनी लियॉन नाम की गयी पोर्न स्टार
Loading...

1 COMMENT

  1. Jise bhi is sawal ka Jawab chahiye o mujhe contact Kare Mai use sahi Jawab dunga ager samna karne ki himmat hai to samne baidha ke sawal karo Insha allah sare Jawab tume quran aur Hadith ki Roshny yani dalilo ke sath di jayegi

Leave a Reply